Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

//

Breaking News:

latest

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT
ADVERTISMENT : Call For Free Gift.

NEET - सरकारी स्कूलों के छात्रों को चिकित्सा पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए 7.5 प्रतिशत आरक्षण

  तमिलनाडु के राज्यपाल ने राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) में सफल रहे सरकारी स्कूलों के छात्रों को चिकित्सा पाठ्यक्रमों में दाखिले...

 





तमिलनाडु के राज्यपाल ने राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) में सफल रहे सरकारी स्कूलों के छात्रों को चिकित्सा पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए 7.5 प्रतिशत आरक्षण प्रदान करने वाले विधेयक को मंजूरी दे दी है। कानूनी राय मिलने के बाद राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने विधेयक को मंजूरी दे दी।


तमिलनाडु में चिकित्सा, दंत चिकित्सा, इंडियन मेडिसीन और होम्योपैथी में स्नातक पाठ्यक्रम में सरकारी स्कूलों के छात्रों को दाखिले से संबधित विधेयक को विधानसभा में 15 सितंबर को पारित किया गया था। इसके बाद इसे मंजूरी के लिए राज्यपाल के पास भेजा गया था। शैक्षणिक सत्र 2020-21 से ही चिकित्सा पाठ्यक्रमों में दाखिले को लेकर नीट पास राज्य संचालित स्कूलों के छात्रों को 7.5 प्रतिशत आरक्षण देने के लिए गुरुवार को शासकीय आदेश जारी किया गया था। इसके एक दिन बाद राजभवन ने बताया कि राज्यपाल ने इससे संबंधित विधेयक को मंजूरी दे दी है। राजभवन के अनुसार राज्यपाल ने 26 सितंबर को लिखे एक पत्र में भारत के सॉलिसिटर जनरल से कानूनी राय मांगी थी, जो उन्हें 29 अक्तूबर को प्राप्त हुई। राय मिलते ही राज्यपाल ने विधेयक को मंजूरी दे दी। द्रमुक सहित अन्य विपक्षी दलों ने विधेयक को मंजूरी देने में पुरोहित पर देरी करने के आरोप लगाए थे। लेकिन भाजपा नेता खुशबू सुंदर ने कहा-हम जो वादा करते हैं उसे पूरा करते हैं। पीएमके प्रमुख एस. रामदास ने कहा कि पुरोहित की मंजूरी लोगों की जीत है।

No comments